कीमोथेरेपी का मतलब हिंदी में (Chemotherapy Meaning In Hindi)

Chemotherapy Meaning In Hindi

Table of Content

Introduction 

कैंसर बीमारी का नाम आज दुनिया में हर कोई जनता है, और जब भी कभी कैंसर के इलाज की बात होती है तो कीमोथेरेपी का नाम सबसे पहले आता है| कीमोथेरेपी कैंसर के इलाज के लिए सबसे बड़ा उपचार है और इससे काफी कैंसर पीड़ित मरीज़ो को भी फायदा मिलता है| आज हम जानेंगे की कीमोथेरेपी क्या है हिंदी में(chemotherapy in hindi), इसके फायदे(benefits), नुकसान(side effects) इन सब के बारे में| 

(Chemotherapy Meaning In Hindi) कीमोथेरेपी का मतलब हिंदी में

कीमोथेरेपी(chemotherapy in hindi) जिसको हम कीमो के नाम से भी जानते है, इसमें अलग अलग तरह के ड्रग्स का इस्तेमाल किया जाता है कैंसर के सैल्स को मारने या कैंसर के टूमओर को सिकोड़ने के लिए| इस प्रकार का कैंसर ट्रीटमेंट कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने और अधिक कोशिकाओं को बनाने से रोककर काम करता है। 

कीमोथेरेपी कई प्रकार की होती है। सामान्य तौर पर, कीमोथेरेपी के लिए उपयोग की जाने वाली दवाएं शक्तिशाली रसायन होती हैं जो कोशिका चक्र(cell cycle) के विशिष्ट भागों के दौरान कोशिकाओं पर हमला करके कैंसर का इलाज करती हैं। सभी कोशिकाएं साइकिल से गुजरती हैं, जिससे नई कोशिकाएं बनती हैं। कैंसर कोशिकाएं सामान्य कोशिकाओं की तुलना में तेजी से इस प्रक्रिया से गुजरती हैं, इसलिए कीमोथेरेपी का इन तेजी से बढ़ने वाली कोशिकाओं पर अधिक प्रभाव पड़ता है।

हालांकि कीमोथेरेपी कई प्रकार के कैंसर के इलाज का एक प्रभावी तरीका है, लेकिन कीमोथेरेपी उपचार से साइड इफेक्ट का खतरा भी होता है। कीमोथेरेपी के कुछ दुष्प्रभाव हल्के और उपचार योग्य होते हैं, जबकि अन्य गंभीर साइड इफेक्ट्स पैदा कर सकते हैं।

कीमोथेरेपी के प्रकार क्या हैं? (What are the types of Chemotherapy in Hindi)

Types Of Chemotherapy In Hindi

कैंसर की कीमोथेरेपी में 100 से भी ज्यादा अलग अलग तरह के ड्रग्स शामिल है| हालांकि सभी कीमोथेरेपी दवाएं कोशिकाओं(cells) को नुकसान पहुंचाती हैं, वे कोशिका साइकिल के दौरान अलग-अलग समय पर अलग-अलग सेल लक्ष्यों पर हमला करती हैं। विभिन्न तरीकों से कैंसर कोशिका को नुकसान पहुंचाने वाली दवाओं के संयोजन से उपचार की कार्य क्षमता में वृद्धि हो सकती है।

 निचे दिए गए कुछ मुख्य कीमोथेरेपी के प्रकार है:-

  • अल्काइलेटिंग एजेंट (Alkylating agents)
  • एंटीमेटाबोलाइट्स (Antimetabolites)
  • एंटी-ट्यूमर एंटीबायोटिक्स (Anti-tumor antibiotics)
  • टोपोइज़ोमेरेज़ अवरोधक (Topoisomerase inhibitors)
  • माइटोटिक अवरोधक (Mitotic inhibitors)
  • प्लांट अल्कलॉइड (Plant alkaloids)

कीमोथेरेपी का उद्देश्य क्या है? (What is the purpose of Chemotherapy in Hindi)

कीमोथेरेपी कैंसर के मरीज को बहुत फायदा पहुंचा सकती है, इसका मुख्य उदेश्य कैंसर के सैल्स को मारने का होता है| कई प्रकार के तरीके हैं कैंसर से पीड़ित लोगों में कीमोथैरेपी का उपयोग करने के लिए :-

  • अन्य उपचार के बिना कैंसर को ठीक करने के लिए:- कीमोथेरेपी का उपयोग कैंसर के प्राथमिक या एकमात्र उपचार के रूप में किया जा सकता है।
  • अन्य उपचारों के बाद, छिपी हुई कैंसर कोशिकाओं को मारने के लिए:- कीमोथेरेपी का उपयोग अन्य उपचारों के बाद किया जा सकता है, जैसे सर्जरी, किसी भी कैंसर कोशिकाओं को मारने के लिए जो शरीर में रह सकती हैं।
  • आपको अन्य उपचारों के लिए तैयार करने के लिए:- कीमोथेरेपी का उपयोग ट्यूमर को सिकोड़ने के लिए किया जा सकता है ताकि विकिरण और सर्जरी जैसे अन्य उपचार संभव हो सकें।
  • संकेतों और लक्षणों को कम करने के लिए:- यह कुछ कैंसर कोशिकाओं को मारकर कैंसर के लक्षणों को दूर करने में मदद कर सकता है।

कैंसर के अलावा अन्य के लिए कीमोथेरेपी का उपयोग किन स्थितियों में किया जाता है? (What are the conditions Chemotherapy is used for other than cancer in Hindi)

हम सभी सिर्फ सिर्फ सोचते है और जानते है की कीमोथेरेपी साइर्फ कैंसर पेशेंट्स के लिए ही इस्तेमाल होती है, लेकिन सच्चाई तो यह है कि कीमोथेरेपी केवल कैंसर रोगियों के लिए ही नहीं है, कीमोथेरेपी दवाओं का एक व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला वर्ग है जिसमें कई अलग-अलग बिमारिओ का इलाज किया जाता है, लेकिन यह इन तक सीमित नहीं है: कैंसर, रक्त विकार और ऑटोइम्यून बीमारियों की अधिकता, और इसका उपयोग कैसे किया जाता है, इसके आधार पर प्रत्येक रोगी को अलग तरह से प्रभावित करता है।

कीमोथेरेपी से पहले कौन से परीक्षण किए जाते हैं? (What are the tests done before Chemotherapy in Hindi)

कीमोथेरेपी शुरू होने से पहले, आपके सामान्य स्वास्थ्य की जांच करने के लिए परीक्षण होंगे और सुनिश्चित करेंगे कि उपचार आपके लिए उपयुक्त है। आपके द्वारा किए जाने वाले परीक्षणों में शामिल हो सकते हैं: रक्त परीक्षण यह जांचने के लिए कि आपका यकृत और गुर्दे कितनी अच्छी तरह काम कर रहे हैं, और आपके पास कितनी रक्त कोशिकाएं हैं।

कीमोथेरेपी की प्रक्रिया क्या है? (What is the procedure of Chemotherapy in Hindi)

Procedure Of Chemotherapy In Hindi

कीमोथेरेपी कई अलग-अलग तरीकों से दी जा सकती है जैसे:-

  • इंट्रावेनस कीमोथेरेपी (Intravenous (IV) chemotherapy)
  • ओरल कीमोथेरेपी (Oral chemotherapy)
  • इंजेक्टेड कीमोथेरेपी (Injected chemotherapy)
  • टोपिकल कीमोथेरेपी (Topical chemotherapy)
  • कीमोथेरेपी ईंटो आर्टरी (Chemotherapy into an artery)
  • कीमो इन एब्डोमेन (Chemotherapy into the peritoneum or abdomen)

कीमोथेरेपी के जोखिम और दुष्प्रभाव क्या हैं? (What are the risks and side effects of Chemotherapy in Hindi)

Risks And Side Effects Of Chemotherapy In Hindi

कीमोथेरेपी दवाओं के सामान्य दुष्प्रभावों(side-effects) में शामिल हैं:

  • जी मिचलाना (nausea)
  • उल्टी करना (Vomiting)
  • दस्त (diarrhea)
  • बाल झड़ना (hair fall)
  • भूख में कमी (loss of appetite)
  • थकान (fatigue)
  • बुखार (fever)
  • मुँह के छाले (mouth sores)
  • दर्द (pain)
  • कब्ज़ (Constipation)
  • आसान आघात (easy bruising)
  • खून बह रहा है (Bleeding)

इनमें से कई दुष्प्रभावों को रोका या इलाज किया जा सकता है। उपचार समाप्त होने के बाद अधिकांश साइड इफेक्ट्स कम हो जाते हैं।

लंबे समय तक चलने वाले और देर से विकसित होने वाले दुष्प्रभाव(side effects)

कीमोथेरेपी दवाएं भी दुष्प्रभाव पैदा कर सकती हैं जो उपचार के महीनों या वर्षों बाद तक स्पष्ट नहीं होती हैं। कीमोथेरेपी दवा के आधार पर देर से होने वाले दुष्प्रभाव अलग-अलग होते हैं लेकिन इसमें शामिल हो सकते हैं:

फेफड़े के ऊतकों को नुकसान (Damage to lung tissue)

हृदय की समस्याएं (Heart problems)

बांझपन (Infertility)

गुर्दे से संबंधित समस्याएं (Kidney problems)

तंत्रिका क्षति (Nerve damage)

दूसरे कैंसर का खतरा (Risk of a second cancer)

कीमोथेरेपी के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (एफएक्यू) (Frequently asked questions (FAQ’s) about Chemotherapy in Hindi)

प्रशन 1:- कीमोथेरेपी कितने दिन तक चलती है?

उत्तर 1:- यह कह पाना बहुत ही मुश्किल है, क्यूंकि ठीक होने में लगने वाला समय कई चीज़ो पर निर्भर करता है जैसे कैंसर का टाइप(type of cancer), कैंसर की स्टेज(stage of cancer) या फिर ट्रीटमेंट ऑफ़ कैंसर(treatment of cancer), लेकिन अगर औसत(average) तौर पर देखा जाये तो कीमोथेरेपी ट्रीटमेंट लगभग 2-6 महीनो तक चलता है| 

प्रशन 2:- क्या कीमो के बाद कैंसर ठीक हो जाता है?

उत्तर 2:- कीमोथेरेपी का मुख्य काम कैंसर के सैल्स(cells) बढ़ने से रोकना होता है| कीमोथेरेपी के दौरान कैंसर को मारने दवाओं का इस्तेमाल होता है, इन दवाओं के कैंसर का टूमओर सिकुड़ जाता है और बढ़ने से रुख जाता है| कीमोथेरेपी इन सैल्स को रोकने में कई हद तक कामयाब हो जाती है| 

प्रशन 3:- कीमोथेरेपी से साइड इफेक्ट कितने समय तक रहता है?

उत्तर 3:- यह तो हर किसीको तो डर लगा ही रहता है की अगर कीमोथेरेपी कामयाब हो भी कई तो उसके साथ आने वाले साइड इफेक्ट्स(side-effects) कब तल दूर होंगे| कई साइड इफेक्ट्स तो जल्द चले जाते है, लेकिन कुछ को जाने में महीने या साल भी लग सकते है, इनको हम late effects के नाम से जानते है| यहीं नहीं कुछ side effects ज़िन्दगी भर तक भी मरीज के साथ रह सकते है, अगर कीमोथेरेपी ने मरीज के organs को नुकसान पहुंचाया है तो| 

प्रशन 4:- कैंसर में कीमोथेरेपी कब दी जाती है?

उत्तर 4:- कीमोथेरेपी जब दी जाती है जब शरीर में कोशिकाएं(cells) बहुत तेज़ी से और अनियमित रूप से बढ़ रहे होते है| कीमो दवाएं इन कोशिकाओं को बढ़ने से रोकती है, ताकि कैंसर शरीर में और न फैले|  

प्रशन 5:- कीमोथेरेपी के बाद देख भाल कैसे करें ? 

उत्तर 5:- यह कुछ बातें है जो आपको ध्यान में रखनी चाहिए:-

  • आराम करना (take rest) 
  • हाइड्रेटेड रहें (stay hydrated)
  • जब आप खा सकते हैं खाओ (eat whenever you can)
  • अपनी दिनचर्या में सामान्यता की भावना पैदा करें (keep you day as normal as possible)
  • अपने आस-पास ऐसी चीजें रखें जो आपको आराम दें (Keep things around that bring you comfort)
  • सकारात्मक बने रहें (stay positive)
  • चलने की कोशिश करें (walk whenever possible)
Share this post
Dr. Vikas Goswami, M.B.B.S. from MAMC, M.D. in Internal Medicine, ECMO, and D.N.B. in Medical Oncology, is a Senior Consultant and experienced Oncologist with 17 years of experience in the field of medicine. He is an excellent speaker and presented his knowledge of Oncology at national & international conferences and workshops. Book an Appointment View Details

Start typing and press Enter to search

Shopping Cart
Call for Appointment