Breast Cancer Symptoms | ब्रेस्ट कैंसर क्या है? कारण, लक्षण और उपचार

ब्रैस्ट कैंसर, लक्षण और इलाज Breast Cancer Symptoms, Causes And Treatment In Hindi

Table of Content

 स्‍तन/ब्रेस्‍ट कैंसर क्‍या है? (What is Breast Cancer?)

ब्रेस्ट कैंसर एक प्रकार का कैंसर है, जो महिलाओ के लिए एक बहुत बड़ी समस्या बन चूका है| ब्रैस्ट कैंसर स्तन में शुरू होता है| इसे आम तोर पर यह ‘C’ शब्द से स्पष्ट किया जाता है| यह कैंसर महिलाओ में तब शुरू होता है, जब कोशिकाएं अनियंतरण बढ़ने लगती है (अगर और आसानी से बताये तो cells out of control होकर grow होने लगते है)|  WHO(world health organisation) की माने तो यह कैंसर दुनिया भर की महिलाओ में सबसे आम कैंसर पाया जाता है| 

स्तन कैंसर में स्तन कैंसर कोशिकाएं(breast cancer cells) एक टूमओर बना लेती है, जो एक गांठ का रूप ले लेती है और इस गांठ को महसूस किया जा सकता है या फिर एक्स-रे में भी देखा जा सकता है|  दुनिआ भर में हर साल 17 लाख से भी ज्यादा ब्रैस्ट कैंसर के मामले आते है | और भारत में इसकी संख्या कुछ 2 है | आप तोर पर स्तन कैंसर सिर्फ महिलाओ में ही पाया जाता है, लेकिन सिर्फ कुछ ही केसेस में पुरुषो में भी यह पाया गया है|

ब्रेस्ट कैंसर के कारण (Causes of Breast Cancer)

स्तन कैंसर की शुरुआती स्टेज में महिला के शरीर में कई बदलाव महसूस होते हैं| महिलाओ मे ब्रैस्ट कैंसर क्यों होता है ये तो स्पष्ट तरीके से साबित नहीं हो पाया है, लेकिन कुछ जोखिम कारक है जो इसकी संभावना बढ़ाते है:- 

1. नशीले पदार्थों का सेवन करना:-

किसी भी तरीके के नशीले पदार्थों जैसे शराब, सिगरेट या ड्रग्स का सेवन, ब्रेस्ट कैंसर के खतरे को बढ़ता है| यह भी एक कारण है जिसकी वजह से यह कैंसर महिलाओ मे काफी देखने को मिलता है| National कैंसर Institute (एन सी आई) के कई स्टडीस के अनुसार यही पाया गया है की जो महिलए नशीले पदार्थों का बहुत ज्यादा इस्तेमाल करती है, उसमे यह कैंसर ज्यादा पाया जाता है या इसके होने का खतरा बढ़ जाता है|

2. परिवार का इतिहास :-

स्तन कैंसर मे परिवार का इतिहास भी बहुत माईने रखता है| किसी के परिवार मे अगर यह कैंसर पहले किसी को रहा हो, तो हो सकता है की उनकी पीड़ी मे भी किसी को यह कैंसर हो, क्यूंकी यह एक ऐसा कैंसर है जो पीडिओ तक चलता है| सिर्फ यही ही नहीं अगर परिवार मे किसी को कोई और कैंसर भी हो तो भी लोगों को ध्यान रखना होगा इस चीज के लिए, क्यूंकी यह पूरे शरीर की कोशिकाओ(cells) का खेल है ओर परिवार वालों की कोशिकाएँ ओर खून मेल कहा सकता है|

ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण (Symptoms of Breast Cancer)

ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण (Symptoms of Breast Cancer)

ब्रैस्ट कैंसर के कई लक्षण हो सकते है जिनमे में कुछ ये है:- 

  •  स्तन मे गांठ का मस्से होना (Lump in breast) 
  • अन्डरआर्म्स मे गांठ (Lump in underarms)
  • स्तन की स्किन पर मे परिवर्तन आना (Breast skin changes)
  • एक या दोनों निपपलेस पर दाने (Rash on one or both nipples )
  • निपल का उलट होना (Nipple inversion)
  • स्तन मे खून आना (Breast bleeding)
  • स्तन की तुआचा(skin) लाल होना (Reddening of the skin of the breast)
  • निपल का कोई भाग दूसरे भाग से अलग होना (Separation of nipple)

ब्रेस्ट कैंसर कितने स्टेज का होता है ?(Breast Cancer Stages)

ब्रेस्ट कैंसर के आम तोर पर 4 स्टेजेस होते है| स्टार्टिंग के स्टेजेस में स्तन कैंसर का पता चलना बहुत मुश्किल होता है, मगर वही अगर अर्ली स्टेजेस में इसका पता चल जाये तो जान बचने की सम्भावना काफी हद्द तक बढ़ जाती है| 

Stage 1 :-

स्टेज 1 में स्तन कैंसर का पता सिर्फ Mammography या Sonography के द्वारा ही लगाया जा सकता है, क्यूंकि फर्स्ट स्टेज में स्तन कैंसर की गांठ सिर्फ 2 सेमी की ही होती है| Mammography या Sonography के बाद ट्रीटमेंट के लिए chemotherapy, surgery, radiation या hormonal therapy दी जाती है और इसी सब से 95% महिलाओं को स्तन कैंसर से पुन: संक्रमित होने से रोकने में मदद हो होती है।

Stage 2 :-

सेकंड स्टेज में स्तन की गांठ 2 cm से ज्यादा बड़ी हो जाती है ओर बढ़कर बगल तक पहुँच जाती है, इस स्टेज में 80% महिलाओ का इलाज किया जा सकता है| इस स्टेज मे पहले डॉक्टर दवाई देकर या chemo से गांठ को छोटा करते है, उसके बाद या तो सर्जरी या फिर radiation/गोलिओ से इलाज चलता है| 

Stage 3 :-

इस स्टेज मे कैंसर की गांठ और भी बढ़ जाती है ओर बढ़कर के 5cm तक की हो जाती है और गले या बगल तक गांठ पहुँच सकती है| इसमे भी इलाज chemotherapy, radiation या सर्जरी द्वारा किया जाता है| इस स्टेज मे 60% महिलाओ का इलाज किया जा सकता है| 

Stage 4 :-

स्टेज 4 में गाँठ हडिओ, फेफड़ो तक पहुँच जाती है और इस कैंसर  का खतरा बढ़ जाता है| लेकिन आजकल कुछ अड्वान्स टेक्नीक से आजकल इस स्टेज मे भी इलाज होना मुमकिन है ओर उसके लिए आपको डॉक्टर से सलाह लेनी होगी | 

ब्रेस्ट कैंसर का उपचार(Breast Cancer Treatment )

ब्रेस्ट कैंसर या स्तन कैंसर के उपचार के भी कई साधन है| जैसे किसी दूसरे कैंसर मे इलाज होता है, उसी तरह ब्रेस्ट कैंसर मे भी वही उपचार लाभदायक होते है, जैसे की कीमोथेरेपी, रेडीऐशन या सर्जरी| ब्रेस्ट कैंसर के ट्रीटमेंट मे अच्छे रिजल्ट्स आ सकते है अगर अर्ली स्टेजेस पर इसका पता चल जाए जैसे stage 1 या स्टेज 2|  कृपया ध्यान दे की बहुत सी महिलाओ मे बिना किसी जोखिम कारक के भी यह कैंसर हो सकता है | 

सेल्फ एग्जामिनेशन (Self Examination)

हर महिला को अपने स्तन की जानकारी होनी बहुत जरुरी है, हर महिला को self examine करना बहुत जरुरी है | स्तन या निप्पल में किसी भी तरह का बदलाव देखे तो उसको नज़रअंदाज़ न करे जैसे स्तन या निप्पल पर धारिया, सूजन, ठोसपन या निशान पड़ना| 

ब्रेस्ट कैंसर से बचने की सावधानियां (Breast Cancer Preventions)

ब्रेस्ट कैंसर से बचने की सावधानियां (Breast Cancer Preventions)

  1. नियमित व्यायाम करें (exercise regularly)
  2. शराब और सिगरेट के सेवन से बचे (Avoid consumption of alcohol and cigarettes)
  3. 35 के बाद गर्भन‍िरोधक गोल‍ियां खाने से बचें (avoid birth control pills after 35)
  4. स्‍तनपान (Feeding The Beast)
  5. पौष्टिक आहार का सेवन करें (eat nutritious food)

Frequently Asked Questions (FAQs)

1. ब्रेस्ट कैंसर की क्या पहचान है?

Answer: ब्रैस्ट कैंसर की कई पहचान है : –

  • स्तन से खून आना । 
  • स्तन की गांठ होना या ठोसपन हो जाना । 
  • स्तन या फिर निप्पल का लाल रंग हो जाना । 
  • स्तन या फिर निप्पल में डिंपल, जलन, लकीरें सिकुड़न होना ।

2. महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर कैसे होता है?

Answer 2-  स्तन कैंसर या ब्रैस्ट कैंसर महिलाओ में कोशिकाएं के अनियंत्रण बढ़ने से होता है, यह calls out of कण्ट्रोल होकर बढ़ने लगते है| स्तन कैंसर कोशिकाएं एक टूमओर बना लेती है और फिर वह गांठ का रूप ले लेती है|

3. क्या ब्रेस्ट कैंसर जानलेवा होता है?

Answer 3 –  लास्ट स्टेज में या एडवांस स्टेज यह एक बहुत ही महवपूर्ण करक है| अगर समय पर पता चले और सही ट्रीटमेंट मिले तो इसका इलाज हो सकता है, और खतरा तल सकता है | लेकिन ब्रैस्ट कैंसर में इतनी क्षमता है की समय पर सही इलाज न मिले तो ये जानलेवा भी हो सकता है |

4. ब्रेस्ट कैंसर में दर्द होता है क्या?

Answer 4 – शुरुवाती लक्षणों के तोर पर ब्रैस्ट कैंसर या स्तन कैंसर के मरीज़ो में निप्पल और स्तन में दर्द एक सामान्य बात है|

5.  ब्रेस्ट कैंसर की शुरुआत कैसे होती है?

Answer 5 –  महिलाओं के शरीर में स्तन का कार्य अपने टिश्यू से दूध बनाना होता है| जब ब्रेस्ट वाहनियों में छोटे सख्त कण जमा होने लगते हैं या स्तन के टिश्यू में गांठ बन जाती है, तब कैंसर (Cancer) बढ़ने लगता है|

 

Share this post
Dr. Vikas Goswami, M.B.B.S. from MAMC, M.D. in Internal Medicine, ECMO, and D.N.B. in Medical Oncology, is a Senior Consultant and experienced Oncologist with 17 years of experience in the field of medicine. He is an excellent speaker and presented his knowledge of Oncology at national & international conferences and workshops. Book an Appointment View Details

Start typing and press Enter to search

Shopping Cart
Call for Appointment